जयपुर सहित कई जगह आज बारिश की संभावना, रात-दिन का पारा चढ़ा

rain05 | Sach Bedhadak

जयपुर। प्रदेश के मौसम में इन दिनों कई रंग देखने को मिल रहे हैं। एक तरफ जहां चूरू में अधिकतम तापमान 37.5 डिग्री दर्ज हुआ, वहीं दूसरी ओर जैसलमेर, बाड़मेर व जोधपुर के आसपास के क्षेत्रों मे कहीं-कहीं पर मेघगर्जन के साथ हल्की बूंदाबांदी हुई। इधर, मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार आज और मंगलवार को प्रदेश में कई जगह बारिश होगी।

रविवार को जैसलमेर में न्यूनतम तापमान प्रदेश में सर्वाधिक 21.3 डिग्री रहा। वहीं, प्रदेश की 21 जगह रात में पारा 15 डिग्री से ऊपर रहा। प्रदेश की 14 जगह अधिकतम तापमान 35 डिग्री से ऊपर दर्ज हुआ। राजधानी में रविवार का न्यूनतम तापमान 17.8 और अधिकतम तापमान 33.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

यहां दिन का पारा हुआ 35 डिग्री के पार

प्रदेश की 14 जगह रविवार को पारा 35 डिग्री से ऊपर निकल गया। यहां लोग दिनभर गर्मी से परेशान नजर आए। सर्वाधिक तापमान शेखावाटी चूरू 37.5 डिग्री के अलावा फलौदी 37, पिलानी 36.9, जैसलमेर और बाड़मेर 36.7, जालोर और बीकानेर 36.2, श्रीगंगानगर और चित्तौड़गढ़ 35.6, डूंगरपुर 35.5, अंता 35.4, कोटा 35.3 डिग्री के अलावा टोंक और जोधपुर का अधिकतम तापमान 35.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

रात में पारा चढ़ने से गर्मी का शुमार

जयपुर समेत कई जगह रात का तापमान 15 डिग्री से ऊपर दर्ज हुआ। इससे लोगों को रात में कूलर, पंखे और एसी चलाने पड़े। इन जगहों में सर्वाधिक न्यूनतम तापमान जैसलमेर में 21.3 डिग्री दर्ज हुआ। बाडमेर में 20.5, बीकानेर 19.4, टोंक 19, फलौदी, 18.4, जोधपुर और अजमेर 17.9, जयपुर 17.8, पिलानी, 18.1, डूंगरपुर 17.7, सीकर 17.5, एरिनपुरा बांध पाली 16.6, चूरू 16.5, श्री गंगानगर 16.2, फतेहपुर 16.1, कोटा 16, बूंदी और धौलपुर 15.7, जालोर 15.5, बूंदी 15.4 और वनस्थली में न्यूनतम तापमान 15.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।

आज से यहां बेमौसम वर्षा संभव: मौसम विभाग

मौसम विभाग के अनुसार एक नए पश्चिमी विक्षोभ के एक्टिव होने से पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर संभाग के साथ ही श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिलों में दोपहर बाद मध्यम दर्जे के थंडरस्टॉर्म गतिविधियां के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। पूर्वी राजस्थान के उदयपुर, अजमेर, कोटा व जयपुर संभाग में भी दो दिन में दोपहर बाद कहीं-कहीं हल्की बारिश संभव है। वहीं, कुछ स्थानों पर अचानक तेज हवाएं चलने की संभावना है। इसके बाद 16-17 मार्च को नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की प्रबल संभावना है, जिससे राज्य में पुन: थंडर स्टॉर्म गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी।

ये खबर भी पढ़ें:-शेखावटी उत्सव के समापन समारोह में शामिल हुए CM गहलोत, सीकर को संभाग बनाने के दिए संकेत!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *